बाबार आज़म के अब्बा जीत के बाद नहीं रोक पाए अपने आंसू, Video वायरल

बाबार आज़म के अब्बा जीत के बाद नहीं रोक पाए अपने आंसू, Video वायरल

पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने शुरू से ही भारतीय गेंदबाजों पर दबाव बनाया. कोहली की कप्तानी में वो आक्रामकता नहीं दिखी जिसके लिए वो जाने जाते हैं.

टीम इंडिया के खिलाफ जीत के बाद पूरा पाकिस्तान इस वक्त जश्न में डूबा है. हर तरफ कप्तान बाबर आज़म (Babar Azam) की तारीफ हो रही है. उन्होंने वो कारनामा कर दिखाया जो इमरान खान जैसे बड़े कप्तान भी नहीं कर सके. न सिर्फ कप्तानी बल्कि बैटिंग के मोर्चे पर भी बाबर ने कमाल कर दिया. उन्होंने मोहम्मद रिज़वान के साथ शतकीय साझेदारी की. साथ ही उन्होंने 68 रनों की नाबाद पारी खेली. इस बीच उनके पिता का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जहां उनकी आंखों से आंसू निकल रहे हैं.

यहाँ भी पढ़िए  सारा अली खान ने अमित शाह को किया बर्थडे विश तो लोग बोले- अब ये ड्रग्स केस में सेफ है

दुबई में इस मैच को देखने के लिए बाबर आज़म के पिता भी पहुंचे थे. वीडियो में देखा जा सकता हैं कि वो स्टेडियम में बैठे हैं और चारों तरफ पाकिस्तानी फैंस ने उन्हें घेर रखा है. दर्शकों का पूरा हूजुम उन्हें बधाई दे रहा है. पिता के साथ आज़म के छोटे भाई भी मौजूद थे.

टीम इंडिया की करारी हार:_बता दें कि भारत को आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के सुपर 12 के पहले मैच में रविवार को यहां पाकिस्तान से 10 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा. भारत ने विश्व कप (वनडे और टी20) में 1992 के बाद इस मैच से पहले तक सभी 12 मैचों (वनडे में सात और टी20 में पांच) में जीत दर्ज की थी.

यहाँ भी पढ़िए  किताबों की दुनिया में खोए हैं आर्यन खान, जेल की लाइब्रेरी से इशू करवाई हैं ये दो BOOKS

कमाल की बैटिंग:_शाहीन शाह अफरीदी (31 रन देकर पांच) की अगुवाई में पाकिस्तानी गेंदबाजों के सामने टीम इंडिया के बल्लेबाज नहीं चले और बाद में रही सही कसर कप्तान बाबर आजम (52 गेंद पर नाबाद 68, छह चौके, दो छक्के) और मोहम्मद रिजवान (55 गेंदों पर नाबाद 79, छह चौके तीन छक्के) की पहले विकेट के लिये अटूट शतकीय साझेदारी ने पूरी कर दी.

भारत की खराब शुरुआत:_भारत ने सिर्फ 31 के स्कोर पर तीन विकेट खो दिए थे. विराट कोहली (49 गेंदों पर 57 रन, पांच चौके, एक छक्का) ने ऋषभ पंत (30 गेंदों पर 39 रन, दो चौके, दो छक्के) के साथ चौथे विकेट के लिये 40 गेंदों पर 53 रन की साझेदारी की जिससे भारत सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच पाया. इसके उलट पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने शुरू से ही भारतीय गेंदबाजों पर दबाव बनाया. कोहली के गेंदबाजों से लेकर क्षेत्ररक्षण की सजावट में वह आक्रामकता नहीं दिखी जिसके कारण उन्हें दुनिया के सफल कप्तानों में गिना जाता है.

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.