मिस इंडिया होने के बावजूद Juhi Chawla को भगा देते थे ऑटोवाले, एक्ट्रेस ने बयां किया दर्द

मिस इंडिया होने के बावजूद Juhi Chawla को भगा देते थे ऑटोवाले, एक्ट्रेस ने बयां किया दर्द

नई दिल्ली: एक्टर्स को अक्सर अपने स्ट्रगलिंग दिनों के दौरान खूब मेहनत करनी पड़ती हैं. कई बार तो उन्हें फिल्म के प्रमोशन के लिए गलियों के भी धक्के खाने पड़ते हैं आज के समय में फिर भी सितारों को काफी सहूलियत है लेकिन पहले के समय में सितारे अपने करियर के शुरुआती दिनों में काफी मशक्कतों का सामना करते थे. अपने ही पुराने दिनों को याद करते हुए जूही चावला (Juhi Chawla) ने बताया था कि कैसे ऑटो वाले उन्हें भगा देते थे.

जूही ने खोला था राज

एक्ट्रेस जूही चावला (Juhi Chawla) अपने शानदार अभिनय के साथ-साथ मस्ती भरे अंदाज और बेबाकी के लिए भी पहचानी जाती हैं. वहीं, बीते दिनों जब वो ‘द कपिल शर्मा शो’ पर पहुंचीं तो उन्होंने पुराने दिनों की कई यादें शेयर कीं. उन्होंने इस दौरान फिल्म 1988 में रिलीज हुई फिल्म ‘कयामत से कयामत’ के वक्त हुए एक दिलचस्प वाकये के बारे में बताया, जिसमें मुंबई के रिक्शेवाल जूही और आमिर खान को पहचान नहीं पाए और उन्हें भगा दिया. जूही चावला के इस किस्से को सुनकर सभी हैरान रह गए.

यहाँ भी पढ़िए  बिना ब्रा के सड़कों पर घूमती दिखीं ‘पूनम पांडे’ लोगों ने किए भद्दे कमेंट्स! (Video)

पोस्टर लगाने की थी रिक्वेस्ट

मंसूर द्वारा निर्देशित फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ बॉक्स ऑफिस पर बड़ी हिट साबित हुई थी. इस फिल्म के बाद आमिर खान और जूही चावला (Juhi Chawla) मशहूर स्टार बन गए थे. इस फिल्म को रोमियो-जूलिट का मॉर्डन एडेप्टेशन बताया गया था. इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट की मानें तो जूही चावला ने कपिल शर्मा के शो पर बताया- ‘मुझे अभी भी याद है जब हमारी फिल्म रिलीज होने वाली थी. हमें कोई भी नहीं जानता था. उस दौर में टैक्सी पर फिल्म पोस्टर लगाया जाना आम बात थी. बिल्डिंग के नीचे टैक्सी की लंबी लाइन थी. इसलिए मैं एक एक ड्राइवर के पास जाकर उनसे पोस्टर लगाने की रिक्वेस्ट कर रही थी’.

यहाँ भी पढ़िए  कभी शादी करने के मूड में थीं एकता कपूर, मगर पिता जितेंद्र की वजह से बन गईं बिन ब्याही मां

लोग कर देते थे मना

जूही (Juhi Chawla) ने बताया कि- ‘जब मैं जाती पोस्टर लगाने की रिक्वेस्ट करती थी तो वो लोग पूछते थे कि ये कौन है? मैं कहती थी ये हीरो हैं आमिर खान… इसके बाद वो मेरी तस्वीर की तरफ इशारा करके पूछते थे कि ये कौन है? मैं कहती थी ये मैं हूं… ये सुनकर वो कहते थे नहीं… नहीं… और हमें भगा देते थे. लेकिन कई लोग प्यार से जवाब देते थे और हमें पोस्टर लगाने देते थे’.

मिस इंडिया रह चुकी हैं जूही

आपको बता दें, 1984 में मिस इंडिया का खिताब जूही चावला ने जीता था. यह खिताब जीतने के बाद ही जूही एक ब्यूटी क्वीन से एक्ट्रेस बनी थीं. मिस इंडिया जूही चावला ने इसके बाद मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में पहुंचीं थीं. ग्लोबल प्लेटफॉर्म पर जूही ने भारतीयता का भरपूर प्रदर्शन किया. लहंगा पहन कर मांगटीका और नथ में जूही नेशनल कॉस्ट्यूम राउंड में पहुंचीं थी, जब नमस्ते कहकर अभिवादन किया तो करोडों भारतीयों का दिल झूम उठा था. जूही को बेस्ट नेशनल कॉस्ट्यूम्स अवॉर्ड मिला था.

यहाँ भी पढ़िए  शिल्पा शेट्टी की पार्टियों में मुफ्त का खाना खाने वाले बॉलीवुड सितारे आज उन्हे इस तरह परेशान कर रहे है

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.