‘पैसों के लालच में मुझसे शादी की’ धोखा देने के बाद जब करिश्मा कपूर के पति ने लगाए थे आरोप, कई सबक देता है ये पूरा किस्सा

‘पैसों के लालच में मुझसे शादी की’ धोखा देने के बाद जब करिश्मा कपूर के पति ने लगाए थे आरोप, कई सबक देता है ये पूरा किस्सा

यह बात किसी से छिपी नहीं है कि करिश्मा कपूर की शादी बहुत बुरी तरह टूटी थी, जहां करिश्मा ने शादी में 100% देने की कोशिश की तो वहीं संजय का उनके साथ बुरा बर्ताब इस शादी को बचा नहीं पाया।

इस बात में कोई दोराय नहीं कि शादी हर किसी के लिए चैलेंजिंग है। रिश्ते में आए उतार-चढ़ाव को जहां कुछ लोग दूर करते हुए अपने पार्टनर को समझने का प्रयास करते हैं, तो कइयों का रिश्ता वक्त के साथ मुश्किल दौर से गुजरने लगता है। ऐसी सिचुएशन तब ज्यादा देखने को मिलती है, जब कपल्स के बीच अट्रैक्शन या लगाव न के बराबर हो। ऐसा इसलिए क्योंकि एक हेल्दी रिलेशन के लिए पति-पत्नी के बीच इमोशनल और मेंटल जुड़ाव का होना बहुत जरूरी है। बॉलीवुड एक्ट्रेस करिश्मा कपूर (Karisma Kapoor) भी उन्हीं में से एक हैं, जिनकी शादी की शुरुआत में तो सब अच्‍छा रहा। समायरा और कियान दो बच्‍चे भी हुए। लेकिन शादी के 11 साल बाद कपल के बीच परेशानी शुरू हो गई।

करिश्मा ने जहां अपनी शादी में 100% देने की कोशिश की तो वहीं संजय का उनके साथ लगातार बुरा बर्ताब इस रिश्ते को चाहकर भी बचा नहीं सका। हालांकि, करिश्मा और संजय साल 2012 से ही अलग रहने लगे थे। लेकिन इस दौरान भी संजय ने उन्हें परेशान करने के लिए ऐसे-ऐसे आरोप लगाए, जो किसी को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

यहाँ भी पढ़िए  जब फिल्मों की शूटिंग के दौरान ही प्रेग्नेंट हो गई थी बॉलीवुड की यह 9 अभिनेत्रियां

जब लगाए थे झूठे आरोप

दरअसल, बांद्रा के फैमिली कोर्ट में संजय कपूर ने डायवोर्स पिटिशन फाइल करते हुए करिश्मा पर आरोप लगाए थे कि ‘करिश्मा ने एक अच्छी पत्नी-बहू और मां होने की जिम्मेदारियां पूरी नहीं की। करिश्मा ने पैसों के लालच में मुझसे से शादी की। उन्होंने बिना सोचे समझे तरीके से मेरी फैमिली प्रॉपर्टी और पैसों को अपने ऐशो आराम के लिए इस्तेमाल किया। करिश्मा ने अपनी शादी से ज्यादा अपने बॉलीवुड करियर को तवज्जो दी।’

खैर, शादी टूटने के बाद अक्सर विवाद और हंगामा देखा जाता ही है, लेकिन यह ऐसा तलाक जिसमें चीजें हद से ज्यादा गंदी हो चुकी थीं। आपसी रजामंदी से तलाक लेने के बाद भी दोनों में किसी ने भी एक-दूसरे के प्रति प्यार और सम्मान बरकार रखने की कोशिश नहीं की थी। हालांकि, बुरी तरह शादी तोड़ने वाले लोगों को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि आपका एक गलत व्यवहार आपकी आने वाली जिंदगी और बच्चों को भी बुरी तरह प्रभावित कर सकता है।

क्यों तलाक को कोर्ट तक घसीटना गलत

हम इस बात को मानते हैं कि एक गलत लाइफ एक्सपीरियंस के कारण आप बहुत ज्यादा नकारात्मक हो गए हैं। लेकिन इसके बाद भी आपको कोशिश करनी चाहिए कि नेगेटिवली आप चीजों पर रिस्पांड न करें। ऐसा इसलिए क्योंकि तलाक देने के लिए अगर आप कोर्ट-कचहरी चक्कर में पड़ेंगे, तो चीजें बुरी होंगी ही।

यहाँ भी पढ़िए  द कश्मीर फाइल्स को भड़’काऊ बताने पर खौला अनुपम खेर का खू’न, गुस्से में शेयर किया असली वीडियो

दोनों लोग न केवल अपना बचाव करने के लिए अपने बीच के मुद्दों को अपने हिसाब से पेश करेंगे बल्कि इसका असर आपके परिवार पर भी पड़ सकता है। मलाइका-अरबाज ने जब तलाक लिया, तो उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ ऐसी कोई बयानबाजी नहीं की, जिसका नुकसान उन्हें आगे जाकर उठाना पड़े। मेरी कहानी: मुझे गोद लिया गया था, लेकिन अब मैं अपनी मां को सहन नहीं कर पा रही हूं।

शांति से तलाक देना सही क्यों?

शादी के 11 साल बाद दीया मिर्जा और साहिल संघा ने भी एक-दूसरे से अलग होने का फैसला किया था। हालांकि, मीडिया में अपने तलाक की खबरों की पुष्टि करते समय दोनों ने ही यह साफ कर दिया था कि वह इस मामले में किसी से कोई बात करेंगे, जिसके पीछे का सबसे बड़ा कारण कि वह हमेशा ही एक-दूसरे के प्रति प्यार और सम्मान बरकार रखेंगे।

हालांकि, देखा जाए तो इस तरह से अलग होना सही भी है। ऐसा इसलिए क्योंकि शादी टूटने के बाद भी आपके संबंध खराब नहीं होंगे। अगर कभी आमना-सामना हो भी गया, तो आपको एक-दूसरे से नजर नहीं चुरानी नहीं पड़ेगी।

आप अलग हो रहे हैं बच्चे नहीं

तलाक देने के साथ ही झगड़ा फसाद करने वाले कपल्स को हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि आपके संबंध तो हमेशा के लिए खराब हो ही रहे हैं। साथ ही इसका असर आपके बच्चों पर भी पड़ रहा है। तलाक के बाद भी आप अपने बच्चों के लिए पैरेंट्स बने रहेंगे। ऐसे में कोशिश यही करें कि चीजें हद से ज्यादा आगे न बढ़ें।

यहाँ भी पढ़िए  अभिनेत्री नोरा फतेही ने टिक टॉक बनाते समय कर दी गलती, दिख गया अंदर का सब कुछ

ऐसा इसलिए क्योंकि करिश्मा के पति ने जब उन पर इस तरह के इल्ज़ाम लगाए थे, उसके बाद भी उन्होंने मीडिया में ऐसी कोई बातें नहीं की थी, जिसका असर उनके बच्चों पर पड़े।

न करें साथी की इमेज खराब

इस बात में कोई दोराय नहीं कि गुस्सा-जलन और रोष की भावना के चलते हम अपने साथी को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। तलाक के कारण हुए विवाद में भले ही आपको अपने साथी की इमेज खराब करके अच्छा लग सकता है। लेकिन ध्यान रखें आगे चलकर आपको अपनी इस आदत के कारण पछताना पड़ सकता है। दूसरों की नजर में अच्छा बनने के चक्कर में आप अपने साथी पर ऐसी बातों का इल्ज़ाम भी लगा रहे हैं, जोकि पूरी तरह से गलत हैं।

करिश्मा और संजय जब तलाक ले रहे थे, तब एक्ट्रेस के पति ने उन्हें लालची बताते हुए उन पर बेवजह पैसे खर्च करने का आरोप लगाया था। बता दें कि शादी करने से पहले करिश्मा-संजय ने काफी समय तक एक-दूसरे को डेट किया था।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.