यूपी के मीडिल क्लास फैमिली से हैं राजपाल यादव, आज करोड़ों में करते हैं कमाई, जानिए- कुल संपत्ति

यूपी के मीडिल क्लास फैमिली से हैं राजपाल यादव, आज करोड़ों में करते हैं कमाई, जानिए- कुल संपत्ति

राजपाल यादव बॉलीवुड के पॉपुलर एक्टर्स में से एक हैं. उन्होंने एक से बढ़कर एक हिंदी फिल्मों में काम किया है. राजपाल यादव ने अपनी एक्टिंग की बदौलत लाखों फैंस के दिलों में अपनी खास जगह भी बनाई है. राजपाल यादव ने कड़ी मेहनत कर यह मुकाम हासिल किया है. राजपाल यादव की एक महीने की कमाई लाखों में हैं और वह लग्जरी लाइफ जीते हैं. नीचे की स्लाइड पर डालें एक नजर. (तस्वीरें: सोशल मीडिया)

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजपाल यादव की कुल संपत्ति 50 करोड़ रुपए है. उनकी कमाई का मुख्य स्रोत ब्रांड एंडोर्समेंट और मूवीज है. महीने में राजपाल यादव 30 लाख से ज़्यादा कमाते हैं. ऐसे में उनकी साल भर की कमाई 4 करोड़ रुपए के आस पास होती है. (तस्वीर: सोशल मीडिया)

राजपाल यादव मुंबई के महंगे घर में रहते हैं, इसके अलावा उन्होंने कई रियल स्टेट की प्रोपर्टी में इनवेस्ट किया हुआ है. उनके पास होंडा अकॉर्ड और बीएमडब्यू 5 सीरीज की महंगी कार है. (तस्वीर: सोशल मीडिया)

एक वेबसाइट के मुताबिक उनके पास जितने प्रोजेक्ट हैं उसके हिसाब से आने वाले तीन साल में उनकी संपत्ति में 40 फीसदी का इजाफा हो जाएगा. राजपाल यादव एक फिल्म के लिए 2 करोड़ रुपए चार्ज करते हैं. ब्रान्ड एंडोर्समेंट के लिए 1 करोड़ रुपए फीस चार्ज करते हैं. (तस्वीर: सोशल मीडिया)

राजपाल यादव ने फिल्मों में अपने करियर की शुरूआत 1999 में आई फिल्म ‘दिल क्या करे से की’. इसके बाद रामगोपाल वर्मा ने उन्हें फिल्म ‘जंगल’ में नेगेटिव रोल दिया. इस रोल ने उनकी किस्मत पलट दी. उन्होंने कंपनी, मैं माधुरी दीक्षित बनना चाहती हूं जैसी फिल्में की, लेकिन कॉमेडी फिल्मों ने उन्हें नई पहचान दी. (फोटो: सोशल मीडिया)

राजपाल यादव का जन्म यूपी के शाहजहांपुर से दूर खांडू नाम के गांव में हुआ. एक्टिंग का हुनर उनमें बचपन से ही था. शुरुआती पढ़ाई के बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई के लिए शाहजहांपुर की ओर रुख किया. यहीं से उनमें एक्टिंग का शौक चढ़ा और अपने इसी शौक को पूरा करने के लिए वो दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा तक पहुंच गए. उन्होंने अबतक एक से बढ़कर एक कई फिल्मों में काम किया है. (तस्वीर: सोशल मीडिया)

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.