शाहरुख खान रियल लाइफ में भी बादशाह हैं रोज़ाना करते हैं हज़ारों लोगों की मदद,विस्तार से जानिए उनके NGO मीर फाउंडेशन के बारे में

शाहरुख खान रियल लाइफ में भी बादशाह हैं रोज़ाना करते हैं हज़ारों लोगों की मदद,विस्तार से जानिए उनके NGO मीर फाउंडेशन के बारे में

शाहरुख खान सिर्फ बॉलिवुड के बादशाह ही नहीं है बल्की वो रियल लाइफ में भी बादशाह है. बादशाह वो ही नहीं जो महलो में रहे और किसी देश पर राज करे.

बल्की असल बादशाह तो वो है तो धन दौलत के साथ साथ लोगो के दिलो पर भी राज करे और उनके सुख दुख में साथ दे.

आज हम बात करेंगे बॉलिवुड के बादशाह शाहरुख खान की और उनकी समाज सेवा की,दोस्तों शाहरुख खान एक NGO चलाते हैं जिसकी नाम है Meer Foundation hai.

आपको बता दे की इस फाउंडेशन का नाम उन्होने अपने पिता मीर ताज खान के नाम पर रखा है मीर ताज खान भारतीय इतिहास में स्वतंत्रता संग्राम सैनानी थे.

यहाँ भी पढ़िए  जब जीनत अमान के साथ सोना चाहते अभिषेक बच्चन, पापा की हीरोइन से हो गया था प्यार !

मीर फाउंडेशन के ज़रिये शाहरुख खान लगातार गरीबो और असहाय लोगो की सहायता करते हैं इन सबमे मुख्य काम है एसिड पीड़ित लड़कियो की मदद, जी शाहरुख खान मीर फाउंडेशन की मदद से एसिड़ पीड़ित लड़कियों के स्वावलंबन में मदद करते हैं.

शाहरुख खान हर महीने 100 एसिड अटैक लड़कियों को पैसे से मदद मुहैया कराते हैं जिसके की वह अपना घर खर्च चला पाती हैं इनमे यूपी बिहार बंगाल और दिल्ली की लड़कियां शामिल हैं.

मीर फाउंडेशन मुंबई में 5500 परिवारों को डेली खाना उपल्ब्ध कराते हैं इसके लिए मुबंई में एक किचिन स्थापित किया है जहां से रोज़ाना जरूरतमंदो तक खाना पहुंचाय जाता है.

यहाँ भी पढ़िए  बेटे के साथ छोटी सी ड्रेस में खड़ी नज़र आई मलाइका अरोड़ा, यूजर्स ने देखते ही कहा “कुछ तो शर्म कर लो”

मीर फाउंडेशन की तरफ से रोटी फाउंडेशन के साथ मिलकर रोज़ाना तीन लाख खाने के पैकेट्स बांटे जाते हैं.

कोरोना महामारी के दौरान भी शाहरुख खान ने बहुत जबरदस्त काम किया जब पूरा देश कोरोना से जूझ रहा था तब शाहरुख खान ने 50 हज़ार PPE किट्स फ्रंट लाइन वर्कर्स को बाटों थे दूसरी लहर के दौरान 5000 रेमडेसिवीर इंजेक्शन भी मरीज़ो को उपबल्ध कराए थे.

शाहरुख खान के इन समाज सेवा के कार्यो को देखते हुए UNESCO ने नवबंर 2011 में अपने प्रतिष्ठत पुरस्कार पिरामिड मर्नी अवॉर्ड से नवाज़ा था.
इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया की ला ट्रोब युनिवर्सिटी ने भी शाहरुख खान तो मानद डॉक्टरेट की उपाधी से नवाज़ा था और शाहरुख खान के नाम से स्कॉलरशिप प्रोग्राम चालू करने की घोषणा भी की थी.

यहाँ भी पढ़िए  शाहरुख खान के नाम से रोशन हुआ ‘बुर्ज खलीफा’, एक्टर को दुबई में मिला स्पेशल बर्थ-डे गिफ्ट

जो लोग शाहरुख खान का नाम सुनकर ही नफरत से भर जाते हैं उन्हे एक बार ये जानकारी ज़रूर पढ़ना चाहिये आजकल वाट्सएप युनिवर्सिटी के मटेरियल ने लोगो को नफरत में अंधा बना दिया है.

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.